Tejpatra (Bay leaf): Uses, Benefits, Properties & Botanical Name

Tejpatra (Bay leaf): Uses, Benefits, Properties & Botanical Name

भारतीय व्यंजनों में महक और सुगंध के लिए तेज पत्ते  (Tejpatra) का उपयोग आमतौर पर किया जाता है लोगों को लगता है कि इससे सब्जी में अच्छी खुशबू आती है लेकिन Tejpatra के कई स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं. हम में से बहुत कम लोगों को tej patta ke fayde के बारे में पता होता है.

आज मैं आपको बताऊंगा तेज पत्ते के फायदे  (tejpatta benefits) क्या है और Tejpatta का English name क्या होता है और इसके साथ हम जानेगे कि tejpatta का  Botanical name या Scientific Name क्या है तो सबसे पहले सबसे जानते है है कि आखिर Tej patta kya hai….

Tej Patta/Tejpatra kya hai:

भारत में तेज़ पत्ते का प्रयोग खाने में मसाले के रूप में तथा आयुर्वेदिक औशधि के रूप में भी होता है. सूखे हुए अच्छे तेज़ पत्ते का प्रयोग खाने को सुगन्धित बनाने के लिए होता है. इसके प्रयोग के पहले पत्ते को तोड़ दिया जाता है. ऐसे व्यंजन जिसे बनने में एक लम्बा समय लगता है, तेज़ पत्ते का प्रयोग किया जाता है.

एक बार व्यंजन तैयार हो जाने पर परोसने के पहले तेज़ पत्ते को निकाल दिया जाता है. तेज़ पत्ते से आने वाली सुगंध इसके स्वाद से अधिक महत्वपूर्ण होती है. पर आपको जानकर यह हैरानी होगी कि यह केवल हमारे खाने की खुशबू को ही नहीं बढ़ाता बल्कि कई बीमारियों के लिए यह Excellent Remedy का भी काम करता है.

 

 

Tejpatra

 

 

 

Tejpatra English Name:

Meanings of  तेजपत्ता in English

noun

  1.   bay leaf (m)
  2.   bay leaf

Bay Leaves Meaning in Hindi:

Tejpatta का HINDI  Name

  • तेज पत्ता

Tejpatta Botanical/Scientific Name:

Tejpatta का  Botanical Name या Scientific Name

  • Cinnamomum Tamala
  • Higher classification: Cinnamomum
  • Cinnamomum Tamala (Plants)

 

 

 

Tejpatra

 

Tejpatra Benefits/Bay Leaves Benefit/तेज पत्ते के फायदे:

आइए जानते हैं Tej Patta ke fayde।  दोस्तों तेज पत्ते में कई ऐसे एंजाइम्स पाए जाते हैं जो हर तरीके के भोजन को बहुत ही जल्द पचाने में सक्षम है। यह हमारे पूरे डाइजेस्टिव सिस्टम को दुरुस्त करता है, और पेट की सभी समस्याओं जैसे गैस बदहजमी दस्त आदि से निजात दिलाता है।

तेज पत्ते में एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज होने के कारण चेस्ट इंफेक्शन सर्दी खांसी अस्थमा और Unrespiratory Problems के लिए एक नेचुरल रिमेडी है। 3 से 4 तेज पत्तों को पानी में उबालकर ग्रीन टी की तरह से उसे पीने से सांस संबंधी सभी बीमारियों से छुटकारा मिलता है।

बे लीव्स में anti-inflammatory प्रॉपर्टीज भी होती है शरीर में किसी भी तरह की सूजन या फिर अर्थराइटिस में होने वाले जॉइंट पेन में इसे यूज करने से काफी राहत मिलती है।

अगर आपके बालों में डैंड्रफ हो गया है या scalp पर कोई फंगल इंफेक्शन है तो बालों को शैंपू करने के बाद तेज पत्ते को पानी में उबालकर ठंडा होने के बाद उसे छानकर उस पानी से बालों को लास्ट रेंज दीजिये बहुत फायदा होगा। बे लीफ में हमारे ब्रेन को काम एंड कूल करने की भी क्वालिटी है।

यह स्ट्रेस हारमोंस के लेवल को कम कर कि हमारे दिमाग को डिस्ट्रेस करता है और एंजाइटी को कम करता है तेजपत्ता हमारे दिल की कैपिलरीज को स्ट्रैंथन करता है। बैड कोलेस्ट्रॉल यानी एलडीएल को कम करता है और ब्लड प्रेशर को reduce करता है।

इसलिए हमारे दिल के लिए टॉनिक का काम करता है तेजपत्ता हमारे शरीर में insulin secretion को स्टिम्युलेट करता है और ब्लड शुगर लेवल को रेगुलेट करता है इसलिए डायबिटिक पेशेंट को इसका सेवन जरूर करना चाहिए तो यह थे तेज पत्ते के कुछ हेल्थ बेनिफिट्स।

भारतीय व्यंजनों में महक और सुगंध के लिए तेज पत्ते का उपयोग आमतौर पर किया जाता है लोगों को लगता है कि इससे सब्जी में अच्छी खुशबू आती है लेकिन इस पत्र के कई स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं। 7 गुणों से भरा है. तेजपत्ता जानिए इस के स्वास्थ्य लाभ……

 

Uses for Bay Leaves/Tejpatra Uses/तेज पत्ते के उपयोग :

तेज पत्ते के तेल में कई प्रकार के औषधीय गुण होते हैं। जो कि स्वास्थ्य के लिए काफी लाभप्रद होते हैं। इससे कई प्रकार के ऑइंटमेंट बनते हैं और इसमें

  • एंटीबैक्टीरियल और
  • एंटीफंगल्स गुण होते हैं
  • इसमें एंटी ऑक्सीडेंट भी भरपूर मात्रा में होता है।

तेज का एक प्रकार का मसाला होता है जिसमें कॉरपोरेशन कैल्शियम मैग्नीशियम सेलेनियम और आयरन की मात्रा काफी ज्यादा होती है लेकिन हम में से बहुत कम लोगों को इसके गुणों के बारे में पता होता है।

1पाचन में सहायक

तेजपत्ता पाचन में सहायक होता है और इसके सेवन से कई प्रकार के पाचन संबंधी विकार सही हो जाते हैं अगर आपको कब्ज की शिकायत रहती है तो तेज प्रताप के लिए रामबाण साबित हो सकता है।

2 डायबिटीज में लाभदायक

टाइप दो प्रकार की डायबिटीज होने पर तेजपत्ता आपके लिए अच्छा साबित हो सकता है यह ब्लड शुगर को नियंत्रित रखता है और दिल को स्वस्थ बनाए रखता है इसलिए अगर आप डायबिटीज के शिकार हैं तो तेजपत्ता का इस्तेमाल खाने में करने लगे।

3 नींद भगाएं

नींद ज्यादा आने पर तेज पत्ते को पानी में कम से कम 6 घंटे तक भिगो दें और उठने के बाद उस पानी को पी लें इससे आपको काफी राहत मिलेगी और नींद वाला हैंगओवर उतर जाएगा।

4 किडनी की समस्या दूर करें

तेजपत्ता किडनी में होने वाली समस्या को दूर करने में सहायक होता है इसके लिए तेजपत्ता डालकर पानी उबाले और उस पानी को पीने से ये समस्या दूर हो सकती है

5 एंटी कैंसर तत्व

तेजपत्ता में कैंसर से लड़ने के गुण होते हैं इसमें कैसी कैसे क्वेश्चन और युग में नामक तत्व होते हैं जो मेटाबॉलिज्म को कैंसर जैसी घातक बीमारी को होने से रोक लेता है

6 दर्द में राहत

तेज पत्ते के तेल को दर्द होने वाली जगह पर लगाने से दर्द में आराम मिलती है आप चाहे तो दर्द होने वाली जगह पर इससे मसाज करें काफी फायदा मिलेगा।

7 कार्डियोवैस्कुलर लाभ

दिल संबंधी कई समस्याओं में तेजपत्ता लाभप्रद होता है इसके सेवन से दिल का दौरा पड़ने का खतरा कम होता है दिल स्वस्थ रहता है

Tej Patta ka photo/तेज पत्ते के फोटोस:

यहां आपको हम कुछ तेज पत्ते के फोटोस दिखा रहे हैं जिससे आपको अंदाजा हो जाएगा कि तेजपत्ता किस तरह का होता है….

 

 

Tej Patta Tejpatra

 

 

 

Tej Patta ki kheti/तेज पत्ते की खेती :

अगर आप भी तेज पत्ते की खेती करना चाहते हैं तो इसके बारे में आप यह डिटेल जरूर जान लें। तेज़ पत्ता एशिया के कई क्षेत्रों में पाया जाता है. इसके लिए गर्म जलवायु वाली जगह उत्तम है,

अतः एशिया के मेडिटरेनीयन क्षेत्रों में इसकी बहुलता देखी जाती है. भौगोलिक रूप से इसे ‘मेडिटरेनीयन बे लीफ’ कहा जाता है.

 

 

Tej Patta

 

 

तेज़ पत्ते का पेड़ सदाबहार होता है, जिसकी ऊंचाई अधिकतम 12 मीटर की होती है. मूल रूप से तैयार एक तेज़ पत्ते का आकार 5 सेमी चौड़ा तथा 10 सेमी तक लम्बा होता है. इस पेड़ के अलावा कई और पेड़ है, जिनसे तेज़ पत्ता प्राप्त किया जाता है. स्थान के अनुसार इसे ‘कैलिफ़ोर्नियन बे लीफ’, ‘इन्डोनेशियाई बे लीफ’, ‘वेस्ट इंडियन बे लीफ़’, ‘इंडियन बे लीफ’ आदि कहा जाता है.

 

Tejpatra Price/तेज पत्ते कैसे ख़रीदे :

अगर आप भी तेज पत्ते का पाउडर खरीदना चाहते हैं तो तेजपत्ता आपको पाउडर के रूप में भी मिल जाएगा अगर आप इसको खरीदना चाहते हैं तो हमने नहीं लिंक दी है आप वहां से क्लिक करके स्कोर ऑनलाइन भी मंगा सकते हैं.

 

 

 

Tejpatra POWDER

 

Leaf Tej Patta Powder, 400g

 

 

 

How to Eat Tej Patta/तेज पत्ते का इस्तेमाल:

इस पत्ते को पानी के साथ उबाल कर उस उबले हुए पानी का इस्तेमाल कई तरह के औषधीय रूप में किया जाता है. इसका इस्तेमाल हर्बल चाय बनाने में होता है. इसके फल तथा पत्तों से आवश्यक तेल प्राप्त होता है. जिसका इस्तेमाल सरदर्द, जोड़ों का दर्द, आर्थराइटिस, सूजन आदि से राहत पाने के लिए किया जाता है. तेज़ पत्ते का कैप्सूल्स भी बाज़ार में उपलब्ध हो गया है, जिसके लगातार सेवन से स्वास्थ बेहतर सकता है.

 

Tej Patta Side Effects/तेज पत्ते के नुकसान:

वैसे तो दोस्तों Tejpatra के इस्तेमाल से कोई खास नुकसान नहीं होता फिर भी तेजपत्ते का अत्यधिक सेवन करने से डायरिया अथवा वोमिटिंग होने की सम्भावना होती है. गर्भावस्था में हर्बल चाय में इसे प्रयोग में लाने के पहले एक बार डॉक्टर से मशविरा लेना बहुत ज़रूरी होता है.

Tejpatra के बारे में हमने आपको पूरी जानकारी दे दी है हमने आप को यह भी बताया कि Tejpatra का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए| अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से जानकारी जरूर प्राप्त कर सकते हैं और कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो आप निसंकोच कमेंट करके पूछ सकते हैं।

इन्हें भी जाने:

Leave a Reply