shankh vati

Shankh Vati Benefits, Side Effects in Hindi शंख वटी फायदे व घर बनाने की विधि

Shankh Vati benefits; शंख वटी एक आयुर्वेदिक औषधि है जिसके बारे में कम ही लोग जानते हैं। अगर आप भी कोई ऐसी दवा ढूंढ रहे हैं जो आपके पेट की हर समस्या का समाधान कर सके तो अब आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं है।

क्योंकि इस पोस्ट में आपको एक ऐसी औषधि के बारे में बताने वाला हूं जो आपके पेट के लिए रामबाण साबित हो सकती है। जी हां यह हमारे पेट की हर तरह की बीमारी के लिए बहुत ही लाभकारी होती है।

Shankh Vati Ayurvedic Medicine Benefits in Hindi

आइए चर्चा करते हैं shankh vati benefits in hindi पुराने जमाने में किसी भी इंसान को अगर अपने पेट में गड़बड़ महसूस होती थी।

  • जैसे कब्ज का होना, गैस, जलन, खाने का ना पचना, कम भूख लगना, पेट में कीड़े हो जाना,

इसी तरह की और बीमारी जब किसी को महसूस होती थी तब उसको शंख वटी बनाकर दी जाती थी।

और शंख वटी का सेवन करने के बाद मरीज बहुत ही कम समय में बहुत अच्छी तरह से स्वस्थ हो जाता था।

दस्त होना, हाजमें का दुरुस्त ना रहना, वात और पित्त रोगों में भी शंख वटी का बड़ी ही आसानी से इस्तेमाल किया जाता है।

shankh vati benefits in hindi

इसी के साथ साथ शंख वटी हमारे शरीर के पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने में भी हमारी सहायता करती है।

मेरा यह कहना गलत ना होगा कि शंख वटी पेट के तमाम रोगों के लिए एक रामबाण जड़ी-बूटी साबित होती है।

ये भी पढ़े:: Patanjali Musli Pak Review पुरुषों की सभी समस्याएं दूर करने के लिए

Shankh Vati Ingredients in Hindi शंख वटी में मिलाए जाने वाली सामग्री

अब बात करते हैं शंख वटी में प्रयोग होने वाली सामग्री की आपको बता दूं कि एक ये एक आयुर्वेदिक औषधि है और इसमें मुख्य रूप से

  • इमली क्षार,
  • सेन्धा नमक,
  • काला नमक,
  • मनिहारी नमक,
  • सामुद्र नमक,
  • साम्भर नमक,
  • नींबू का रस,
  • शुद्ध शंख,
  • भुनी हींग,
  • सोंठ,
  • काली मिर्च,
  • पीपल,
  • शुद्ध गन्धक,
  • शुद्ध पारा,

How to make Shankh Vati at home घर पर बनाने की विधि

नींबू निकालने के बाद वह सारी सामग्री जो पर बताई गई है बराबर बराबर मात्रा में लेकर सारी सामग्री का भार 250 ग्राम हो जाना चाहिए।

नींबू के अलावा इन सब सामग्री को एक जगह मिक्स कर लीजिए और अब इसमें नींबू का रस मिलाकर इसकी गोलियां बना लीजिए। और अब आपकी शंख वटी तैयार है।

इन्हें भी जाने: Himalaya TENTEX Royal Benefits in Hindi  2 कैप्सूल खाने के बाद 3 घंटे खड़ा रहता है।

Shankh Vati Dose in Hindi शंख वटी की मात्रा व इस्तेमाल

शंख वटी जो की एक आयुर्वेदिक औषधि है इसे इस्तेमाल करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

कुछ मरीजों को इस की खुराक खाने से पहले और खाने के बाद भी बताई जाती है।

shankh vati benefits in hindi

तो आप अपने डॉक्टर की सलाह लें कि आपको खाने से पहले उसकी खुराक लेने हैं या खाने के बाद।

आमतौर पर आयुर्वेद के संसार में इसकी एक एक गोली दिन में दो बार गुनगुने पानी के साथ लेनी चाहिए।

Shankh Vati Side Effects in Hindi शंख वटी के नुकसान

जो लोग हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से जूझ रहे हैं वह शंख वटी का इस्तेमाल ना करें क्योंकि इसमें नमक की मात्रा अधिक होती है।

जिसकी वजह से आपका ब्लड प्रेशर बिगड़ सकता है।

गर्भवती महिला भी का सेवन ना करें क्योंकि गर्भवती महिला को शंख वटी इस्तेमाल करने से काफी नुकसान की आशंका है।

पढ़े:: Mansure Capsule Reviews in Hindi वीर्य में शुक्राणुओं की कमी को दूर करने के लिए

कहां से खरीदें शंख वटी How to Buy Shankh Vati in Hindi

शंख वटी को आप घर पर भी बना सकते हैं क्योंकि इसे एक घर पर बनाना बहुत मुश्किल होगा।

इसीलिए आप बाजार से ही खरीदें जिसकी वजह से आपका समय भी बचेगा।

आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके से घर बैठे मंगवा भी सकते हैं जिसकी वजह से आपका धन और वक्त दोनों की बचत होगी।

shankh vati benefits in hindi

Baidyanath Shankh Bati

शंख वटी के बारे में हमने लगभग सभी जानकारी आपके साथ शेयर कर दी है।

अगर आपके मन में अभी भी कोई शंख वटी से संबंधित सवाल है या कोई सवाल पूछना चाहते हैं,

तो आप निसंकोच कमेंट करके पूछ सकते हैं।

1 thought on “Shankh Vati Benefits, Side Effects in Hindi शंख वटी फायदे व घर बनाने की विधि”

Leave a Reply