krimikuthar ras

Krimikuthar Ras (कृमिकुठार रस) Ayurvedic Medicine For Worm In Stomach

Krimikuthar Ras (कृमिकुठार रस) Ayurvedic Medicine For Worm In Stomach

कई बार जब हमारे पेट में तेज दर्द होने लगता है और हम डॉक्टर के पास चेकअप के लिए जाते हैं तो हमे पता लगता है कि हमारे पेट में कीड़ों की समस्या हो गई है।

वैसे तो यह समस्या बच्चों में आम होती है लेकिन यह किसी भी उम्र के व्यक्ति को हो सकती है।

पेट में कीड़े हो जाने की वजह से आपकी पाचन क्रिया कमजोर हो जाती है जिससे भूख कम लगती है। कुछ भी खाया पिया शरीर में नहीं लगता और साथ ही यह कमजोर हो जाते हैं।

यदि इस समस्या का इलाज समय पर न किया जाए तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए काफी हानिकारक हो सकती है।

इसलिए इस पोस्ट में बात करेंगे एक ऐसी आयुर्वेदिक दवा के बारे में जिसके इस्तेमाल से आपके पेट में होने वाले कीड़ों की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

Krimikuthar Ras in Hindi कृमिकुठार रस हिंदी में

कृमिकुठार रस (krimikuthar ras) आयुर्वेद की एक जानी मानी औषधि है जो टैबलेट के रूप में मिलती है।

जिसका इस्तेमाल पेट के कीड़ों की समस्याओं को दूर करनेे क लिए कियाा जाता है।

Krimikuthar Ras (कृमिकुठार रस) Ayurvedic Medicine For Worm In Stomach पेट के कीड़ों को करें जड़ से ख़त्म

Krimikuthar Ras Benefits in Hindi कृमि कुठार रस के फायदे

सबसे पहले जान लेते हैं कृमि कुठार रस के फायदों के बारे में किस-किस दिमाग से कौन-कौन से फायदे हैं?

किन किन समस्याओं में इसका इस्तेमाल करना फायदेमंद होता है?

कृमि कुठार रस वात रोग और कफ दोषों को दूर करती है। इस दवा का इस्तेमाल मुख्य रूप से पेट के कीड़ों की समस्या को दूर किया जा सकता है।

Krimikuthar Ras (कृमिकुठार रस) Ayurvedic Medicine For Worm In Stomach

पढ़े: Mansure Capsule Reviews in Hindi वीर्य में शुक्राणुओं की कमी को दूर करने के लिए

इस दवा का इस्तेमाल अरुचि और अनिद्रा जैसी समस्या में किया जाता है।

यह दवा आपके पाचन तंत्र के लिए काफी फायदेमंद होती है। भूख बढ़ाने में भी काफी असरदार है।

Uses of Krimikuthar Ras कृमि कुठार रस के गुण

इस दवा के गुणों की बात करें तो यह दवा

  • एंटीऑक्सीडेंट,
  • वात नाशक,
  • कफ नाशके,
  • कीटाणुनाशक
krimikuthar ras

आदि गुणों से भरपूर हैं। तो दोस्तो ये थे कृमि कुठार रस से जुड़े कुछ फायदे और गुणों के बारे में जानकारी।

जाने: Chandraprabha Vati Uses, Benefits in Hindi चंद्रप्रभा वटी की जानकारी

Ingredients of Krimikuthar Ras जड़ी बूटियां

अब बात करते हैं इसमें पाए जाने वाली जड़ी बूटियों के बारे में कि इसमें कौन-कौन सी जड़ी बूटियां पाई जाती है।

  • ब्राह्मी
  • नागकेसर
  • अजमोड़ा
  • विडंग

जैसी प्राकृतिक तत्व मिलाए जाते हैं जो आपके स्वास्थ्य के लिए पूरी तरह सुरक्षित और फायदेमंद है।

पढ़े: Patanjali Musli Pak Review पुरुषों की सभी समस्याएं दूर करने के लिए

इसमें आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का इसमें समावेश किया गया है जो कि आपके पेट से संबंधित समस्याओं के लिए काफी फायदेमंद है।

इसके अलावा वात रोग और कफ रोगों के लिए भी फायदेमंद होती हैं।

दोस्तों यह थी जानकारी कृमि कुठार रस में पाई जाने वाली जड़ी बूटियों के बारे में जानकारी।

आगे हम बात करने वाले हैं कि इसको इस्तेमाल करने का सही तरीका क्या है?

Krimikuthar Ras Dosage कृमि कुठार रस सेवन विधि व मात्रा

अब जान लेते हैं कि कृमि कुठार रस के इस्तेमाल करने का सही तरीका और इसकी सही डोज क्या है?

कृमि कुठार रस के फायदे

आप इस दवा की एक से तीन गोली दिन में दो बार पानी के साथ ले सकते हैं।

इसका सेवन सुबह नाश्ते के बाद और रात को खाना खाने के बाद कर सकते हैं।

वैसे तो ये दवा आपके स्वास्थ्य के लिए पूरी तरह से सुरक्षित है फिर भी इसके सेवन पहले आयुर्वेदिक डॉक्टरों से परामर्श अवश्य कर लें।

How long to use it कब तक यूज़ करें?

आपको कृमीकुठार का इस्तेमाल 1 महीने तक करना होगा या फिर डॉक्टर के परामर्श के अनुसार इसका सेवन करना बेहतर रहेगा।

अगर आप पहले से ही कोई और दवा का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

अगर आप होम्योपैथिक दवा का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

लेकिन सबसे पहले आपको होम्योपैथिक दवा का इस्तेमाल करना होगा उसके 10 से 20 मिनट बाद आप कृमि कुठार रस का इस्तेमाल कर सकते हैं।

How to buy Krimikuthar Ras & Price कृमि कुठार रस की कीमत और कहां से खरीदें

कृमि कुठार रस krimikuthar ras patanjali, baidyanath krimikuthar ras जैसी पॉपुलर कंपनी द्वारा तैयार किया जाता है।

इसको आप अपने नजदीकी मेडिकल स्टोर से या फिर ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं।

अगर आप इसे ऑनलाइन खरीदना चाहते हैं तो नीचे लिंक पर क्लिक करके आप baidyanath का herbal krimikuthar ras, Zandu Krimi Kuthar Rasa  या krimikuthar ras patanjali घर बैठे मंगा सकते हैं।

Baidyanath Krimikuthar Ras (80tab)

krimikuthar

Zandu Krimi Kuthar Rasa 75 Tablets 

कृमीकुठार रस सावधानियां

अंत में हम जान लेते हैं कि इसको इस्तेमाल करते वक्त था में कौन कौन सी सावधानियां बरतनी होती हैं।

ताकि इसके इस्तेमाल से हमें कोई भी किसी तरह का साइड इफेक्ट क्या नुकसान ना हो।

निर्धारित खुराक में ही कृमीकुठार का इस्तेमाल करना चाहिए। अगर आप इसका ओवरडोज लेते हैं तो आपको इसका साइड इफेक्ट हो सकता है।

इसका इस्तेमाल लगातार एक महीने तक के लिए ही करें या फिर आप डॉक्टर के अनुसार इसका इस्तेमाल करें।

महिलाओं में प्रेगनेंसी के दौरान इसका इस्तेमाल नहीं करवाना चाहिए।

5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को भी इसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

इस दवा को बच्चों की पहुंच से दूर रखना चाहिए और इसको वातानुकूल स्थान पर ही रखना चाहिए।

अगर आप कोई पहले से सप्लीमेंट का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर ले लें।

अगर आपको भी पेट से संबंधित समस्या है या फिर पेट में कीड़े की प्रॉब्लम है तो आप को कृमि कुठार रस का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए।

क्योंकि कृमि कुठार रस एक आयुर्वेदिक दवा है जो धीरे-धीरे असर करती है लेकिन फायदा देती है।

कृमि कुठार रस के बारे में हमने लगभग सभी जानकारी आपके साथ शेयर कर दी है।

अगर आपके मन में अभी भी कोई कृमि कुठार रस से संबंधित सुझाव है या कोई सवाल पूछना चाहते हैं,

तो आप निसंकोच कमेंट करके इसके बारे में पूछ सकते हैं।

Leave a Reply